[PDF] उत्तर प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र Form | UP Marriage Certificate

Uttar Pradesh Marriage Certificate PDF Form -: सर्वोच्च न्यायालय का आदेशानुसार उत्तर प्रदेश सरकार ने विवाह पंजीकरण करना अनिवार्य कर दिया है। जिसका मुख्य कारण यह है कि, सरकार समाज में बाल विवाह जैसी परम्पराओं पर पर रोक लगायी जा सके। जिससे महिलाओं के अधिकारों का हनन हो सके, और महिलाओं को सशक्त बनाया जा सके।

Marriage Certificate के लिए दोनों दम्पतियों को आवश्यक दस्तावेज और गवाह प्रस्तुत करने होंगे। जिसके बाद विवाह प्रमाण पत्र सरकार द्वारा विवाहित जोड़ों को दिया जायेगा।

Viwah Prman Patra एक प्रकार का आवश्यक दस्तावेज है जो, वयस्क व्यक्ति को विवाह होने के बाद कोर्ट (अदालत) द्वारा प्रदान किया जाता है। जिसके बाद दोनों दम्पतियों को संवैधानिक रूप से पति -पत्नी का दर्जा मिलता है। जिसके लिए आवेदक पुरुष की आयु 21 साल से अधिक होनी चाहिए। और आवेदक महिला की आयु 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।

Uttar Pradesh Marriage Certificate Form PDF
Uttar Pradesh Marriage Certificate Form PDF

उत्तर प्रदेश विवाह प्रमाण पत्र फॉर्म PDF Download

Application/Registration Form for Uttar Pradesh Marriage Certificate 2020-21:
 भाषा   हिंदी
 लाभार्थी   राज्य के नागरिक
 प्रमाण पत्र   विवाह प्रमाण पत्र
उद्देश्य बाल विवाह पर रोक लगाना
आधिकारिक वेबसाइट  Click Here
विवाह पंजीकरण फार्म PDF UP Download Here
उत्तर प्रदेश विवाह रजिस्ट्रेशन मैरिज सर्टिफिकेट ऑनलाइन Apply Online

यूपी विवाह पंजीकरण प्रमाण पत्र की मुख्य विशेषताएं:

  • विवाह पंजीकरण प्रमाणपत्र हिंदी और अंग्रेजी दोनों में उपलब्ध है।
  • आधार से आवेदक का विवरण और तस्वीरें कैप्चर किया जायेगा।
  • सफल भुगतान के बाद, मैरिज रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट तुरंत रजिस्ट्रार को ईमेल पर भेज दिया जाएगा।
  • यूपी सम्पत्ति पंजीकरण/प्रॉपर्टी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (IGRSUP) हेतु यहाँ क्लिक करें।

Benefits of Uttar Pradesh Marriage Certificate:

हाल ही समाचार सूत्रो के अनुसार उत्तर प्रदेश की राज्य सरकार द्वारा UP Marriage Registration को सभी धर्मो के नये व पुराने विवाहित जोड़ो के लिये अनिवार्य कर दिया जायेगा। इसके अलावा, इस योजना के निम्नलिखित लाभ हैं:

  1. भविष्य में, यदि आप अपनी पत्नी को नॉमिनी बनाना चाहते हैं तो आपको यह सर्टिफिकेट जमा करना होगा।
  2. यदि आप विदेश में रहते हैं तो आपको एक विवाहित जोड़े के रूप में साबित करने के लिए अपना विवाह प्रमाणपत्र (Marriage Certificate) प्रस्तुत करना होगा।
  3. कई बीमा कंपनियों ने विवाह प्रमाणपत्र को अनिवार्य कर दिया है।
  4. इस आधार आधारित यूपी विवाह पंजीकरण योजना का मुख्य उददेश्य यह पता लगाना है कही किसी स्थान पर आज भी बाल विवाह का प्रचलन तो नही है।

Note – Uttar Pradesh Marriage Certificate पंजीकरण रजिस्ट्रेशन करने के लिए आवेदक उम्मीदवार को UP Vivah Praman Patra का आवेदन पत्र फॉर्म भरना होगा। जिसके साथ आवश्यक दस्तावेज संलग्न करने होंगे और संबंधित विभाग में जमा करने होंगे। इस प्रक्रिया के बाद आपको विवाह प्रमाण पत्र / Marriage Certificate प्राप्त होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.