Uttar Pradesh Tenant Verification Form | किरायेदार सत्यापन फॉर्म PDF - Application Form PDF
Uttar Pradesh Tenant Verification Application Form PDF Download

Uttar Pradesh Tenant Verification Form | किरायेदार सत्यापन फॉर्म PDF

Uttar Pradesh Tenant Verification Application Form PDF|  उत्तर प्रदेश किरायेदार पुलिस सत्यापन फॉर्म डाउनलोड  | UP Kirayedar Satyapan Form | UP police Tenant Verification Form | उत्तर प्रदेश किरायेदार ऑनलाइन सत्यापन करें

नमस्कार दोस्तों आज हम आपको किरायेदार, नौकर या घरेलू सर्वेंट वेरिफिकेशन (सत्यापन) के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। आज दिनों दिन आपराधिक मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। जिन को देखते हुए राज्य सरकार ने सभी मकान मालिकों को किरायेदार या सर्वेंट रखने वाले परिवारों को किरायेदार और घरेलू नौकर का सत्यापन करने का आदेश जारी किया है। जिससे किसी अनजान व्यक्ति के बारे में पुलिस द्वारा जांच की जायेगी। जिससे यह पता लग सके की नौकर व्यक्ति पर किसी प्रकार का प्रकार का आपराधिक मामला तो नहीं किया है। या वह नाबालिक तो नहीं है। जिसकी जाँच पुलिस द्वारा (Tenant Verification) की जाएगी। नहीं तो कई बार ऐसे मामले देखने को मिलते हैं। कई आपराधिक घटनायें जैसे की नौकर या किरायेदार द्वारा घर में लूटपाट, हिंसक झड़प, चोरी आदि। इन सभी आपराधिक मामलों को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा घरेलू नौकरों किरायेदारों का पुलिस वेरिफिकेशन किया जा रहा है।

Uttar Pradesh Tenant Verification Application Form PDF Download

यूपी किरायेदार पुलिस सत्यापन आवेदन फॉर्म डाउनलोड

एक मकान मालिक के रूप में, आपको किरायेदार के व्यक्तिगत और व्यावसायिक विवरण का पता लगाना होगा। आखिरकार, अपनी संपत्ति को किराए पर देने का पूरा उद्देश्य आय उत्पन्न करना है, बिना किसी परेशानी के। आपको किरायेदार की भुगतान क्षमता का आकलन करना होगा, साथ ही यह भी सुनिश्चित करना होगा कि वह किसी भी सामान्य या कानूनी उपद्रव का कारण नहीं बनेगा। किराए पर लेने की प्रक्रिया का यह हिस्सा पृष्ठभूमि की जांच है, जो आप अपनी सुरक्षा के लिए करते हैं। इसके लिए आपको किरायेदार सत्यापन करना आवश्यक है। यहां हम आपको उत्तर प्रदेश किरायेदार सत्यापन फॉर्म डाउनलोड लिंक व ऑनलाइन किरायेदार सत्यापन की जानकारी विस्तार से प्रदान करेंगे।

आर्टिकल  Tenant Police Verification UP
 विभाग  Uttar Pradesh Police
 लाभ  Security related
 लाभर्थी  State resident
 आधिकारिक वेबसाइट   Click Here
पुलिस वेरिफिकेशन फॉर्म डाउनलोड Click Here

किरायेदार सत्यापन की आवश्यकता

भारत के प्रमुख शहरों में किराये के आवास की मांग लगातार बढ़ी है, क्योंकि लोग ऐसे शहरों की ओर पलायन करते हैं जो रोजगार के अवसर प्रदान करते हैं। भारत में किराये के आवास को बढ़ावा देने और मकान मालिक और किरायेदार दोनों के लिए संपत्तियों को किराए पर देने की प्रक्रिया को फायदेमंद बनाने के लिए सरकार ड्राफ्ट मॉडल टेनेंसी एक्ट 2019 भी लेकर आई है। फिर भी, जमींदारों को अपनी संपत्तियों को किराये पर देते समय कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। किरायेदार द्वारा अपने परिसर में की गई किसी भी अवैध गतिविधि के लिए, मकान मालिक कानूनी रूप से जिम्मेदार होगा। इसके अलावा, आपकी संपत्ति के माध्यम से किराये की कमाई की पूरी संभावना खतरे में पड़ सकती है, अगर संपत्ति एक किरायेदार को पेश की जाती है जिसका ट्रैक रिकॉर्ड मुश्किल से पता लगाया जा सकता है। ऐसे व्यक्ति को रहने के लिए अपनी संपत्ति की पेशकश करना बहुत बड़ी गलती होगी। यह वह जगह है जहां किरायेदार सत्यापन महत्व रखता है।

Documents Required For Uttar Pradesh kirayedar Satyapan 

किराएदार या सर्वेंद्र को नौकरी पर रखने के लिए पुलिस वेरिफिकेशन हेतु। आपको कुछ जरूरी आवश्यक दस्तावेजों की जरूरत होगी, जिनकी सूची निम्नलिखित है।

  • किराएदार का या नौकर का आधार कार्ड।
  • कर्मचारी का निवास स्थान का विवरण।
  • सरवन का मोबाइल नम्बर व फोटो ।
  • अपना विवरण आवेदक परिवार के मुखिया का विवरण ।

Application Process For UP Tenant Police Verification 

किराएदार की पुलिस वेरिफिकेशन या सत्यापन कराने के लिए मालिक को निम्नलिखित प्रक्रियाओं को पूरा करना होता है। जिसके बाद पुलिस द्वारा घरेलू कर्मचारी या नौकर का सत्यापन किया जाता है।

  • किराएदार के बारे में अधिक से अधिक जानकारी एकत्र करना। जैसे पिछले नौकरी या निवास का पता।
  • इन सभी जानकारियों को आवेदन पत्र में भरना होगा जिसके बाद अपने नजदीकी पुलिस थाना में जमा करना होगा।
  • आपके द्वारा भरी की जानकारी को पुलिस द्वारा जांच की जाएगी सभी जानकारियां सही पाए जाने के बाद आप किराएदार को रख सकते हैं।

उत्तर प्रदेश किरायेदार ऑनलाइन सत्यापन कैसे करें

यदि आप अपने किरायेदार का ऑनलाइन सत्यापन करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा।

  • सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश पुलिस की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहां आपको होम पेज दिखाई देगा। जैसा नीचे दर्शाया गया है –
  • यहां आपको Citizen Services के अंतर्गत “Tenant / PG Verification” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • क्लिक करते ही आपके सामने एक पेज और खुल जायेगा। यहां आपको अपना पंजीकरण करना होगा।
  • इसके बाद आपको “किरायेदार / पीजी सत्यापन अनुरोध” के विकल्प का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपनी व अपने किरायेदार की सभी जानकारी दर्ज करनी होगी। इसके बाद मांगे गए आवश्यक दस्तावेज अपलोड कर “Submit” पर क्लिक करना होगा।

उत्तर प्रदेश किरायेदार ऑफलाइन सत्यापन करने की प्रक्रिया

यदि आप अपने किरायेदार का सत्यापन करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको कुछ आसान से चरणों का पालन करना होगा। जो निम्न प्रकार से हैं –

  • सबसे पहले आपको अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन पर जा कर इसका फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • या आप नीचे दिए गए लिंक के माध्यम से भी फौरन डाउनलोड कर सकते हैं।

DOWNLOAD FORM TO VERIFY UTTAR PRADESH TENANT

  • फॉर्म डाउनलोड करने के बाद आपको इसमें पूछी गयी सभी जानकारी ध्यान से भरनी होगी। जिसमे आपको अपनी व अपने किरायेदार की जानकारी भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद आपको फॉर्म के साथ आवश्यक दस्तावेज संलग्न करने होंगे।
  • इसके बाद आपको पूर्णरूप से भरे हुए फॉर्म को अपने नजदीकी पुलिस स्टेशन मे जमा करना होगा।
  • इसके बाद आपके द्वारा दी गयी जानकारी की जाँच की जाएगी फिर आप अपने किरायेदार को रख सकते हैं।

यहां हमने आपको उत्तर प्रदेश किरायेदार सत्यापन करने की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की है। यदि आपको इससे संबंधित कोई सवाल पूछने हों, तो आप नीचे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं। अन्य सभी सरकारी योजनाओं व प्रक्रियाओं के आवेदन व पीडीएफ फॉर्म की सबसे जनकारी पाने के लिए हमारी वेबसाइट www.applicationformpdf.com के साथ बने रहें। धन्यवाद-

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top