Uttar Pradesh Tenant Verification Form | किरायेदार सत्यापन फॉर्म PDF

0

Uttar Pradesh Tenant Verification Application Form PDF Download -: नमस्कार दोस्तों आज हम आपको किरायेदार, नौकर या घरेलू सर्वेंट वेरिफिकेशन (सत्यापन) के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। आज दिनों दिन आपराधिक मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। जिन को देखते हुए राज्य सरकार ने सभी मकान मालिकों को किरायेदार या सर्वेंट रखने वाले परिवारों को किरायेदार और घरेलू नौकर का सत्यापन करने का आदेश जारी किया है। जिससे किसी अनजान व्यक्ति के बारे में पुलिस द्वारा जांच की जायेगी। जिससे यह पता लग सके की नौकर व्यक्ति पर किसी प्रकार का प्रकार का आपराधिक मामला तो नहीं किया है। या वह नाबालिक तो नहीं है। जिसकी जाँच पुलिस द्वारा (Tenant Verification) की जाएगी। नहीं तो कई बार ऐसे मामले देखने को मिलते हैं। जहाँ घरों में नाबालिक बच्चे को नौकर बना कर रखते हैं। और उसका शोषण करते हैं। तथा कई आपराधिक घटनायें जैसे की नौकर या किरायेदार द्वारा घर में लूटपाट, हिंसक झड़प, चोरी आदि। इन सभी आपराधिक मामलों को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा घरेलू नौकरों किरायेदारों का पुलिस वेरिफिकेशन किया जा रहा है।

Uttar Pradesh Tenant Verification Application Form PDF Download
Uttar Pradesh Tenant Verification Application Form PDF Download

यूपी किरायेदार पुलिस सत्यापन आवेदन फॉर्म डाउनलोड-

आर्टिकल  Tenant Police Verification UP
 विभाग  Uttar Pradesh Police
 लाभ  Security related
 लाभर्थी  State resident
 आधिकारिक वेबसाइट   Click Here
पुलिस वेरिफिकेशन फॉर्म डाउनलोड Click Here

Documents Required For Uttar Pradesh kirayedar Satyapan –

किराएदार या सर्वेंद्र को नौकरी पर रखने के लिए पुलिस वेरिफिकेशन हेतु। आपको कुछ जरूरी आवश्यक दस्तावेजों की जरूरत होगी, जिनकी सूची निम्नलिखित है।

  • किराएदार का या नौकर का आधार कार्ड।
  • कर्मचारी का निवास स्थान का विवरण।
  • सरवन का मोबाइल नम्बर व फोटो ।
  • अपना विवरण आवेदक परिवार के मुखिया का विवरण ।

Application Process For Tenant Police Verification UP –

किराएदार की पुलिस वेरिफिकेशन या सत्यापन कराने के लिए मालिक को निम्नलिखित प्रक्रियाओं को पूरा करना होता है। जिसके बाद पुलिस द्वारा घरेलू कर्मचारी या नौकर का सत्यापन किया जाता है। 

  • किराएदार के बारे में अधिक से अधिक जानकारी एकत्र करना। जैसे पिछले नौकरी या निवास का पता।
  • इन सभी जानकारियों को आवेदन पत्र में भरना होगा जिसके बाद अपने नजदीकी पुलिस थाना में जमा करना होगा।
  • आपके द्वारा भरी की जानकारी को पुलिस द्वारा जांच की जाएगी सभी जानकारियां सही पाए जाने के बाद आप किराएदार को रख सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.