[PDF] एमपी मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना रजिस्ट्रेशन फॉर्म | Teerth Darshan

0

MP Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana Registration Form PDF Download – मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के बुजुर्ग नागरिकों के लिए “मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना (Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana)” का शुभारम्भ किया गया। सीएम तीर्थ दर्शन यात्रा योजना के तहत 60 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गों (senior citizens) को योजना का लाभ दिया जाता है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य यह है कि,राज्य के जो गरीब,बीपीएल परिवार के वृद्ध सदस्य हैं। उनको मोक्ष प्राप्ति के लिए भारतीय तीर्थों का दर्शन कराया जा सके। MP Mukhyamantri TeerthYatra Yojana में जो नागरिक तीर्थ दर्शन करने जायेगा। उसको किसी भी प्रकार का कोई पैसा नहीं खर्च करना होगा। सरकार द्वारा आने जाने और खाने की व्यवस्था पूरी तरह से फ्री में है।

MP Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana Registration Form
MP Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana Registration Form
मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना आवेदन फॉर्म – 
Madhya Pradesh Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana Application Form:
 आर्टिकल   मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना
 विभाग  सामाजिक न्याय और अधिकारिता विभाग
 लाभार्थी  राज्य के वरिष्ठ नागरिक
 लाभ    तीर्थ यात्रा करना
Helpline Numbers  9425012227/9424891654
 आधिकारिक वेबसाइट   Click Here
 फॉर्म पीडीएफ डाउनलोड   Download Here
मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन स्थान सूची)-
श्री बद्रीनाथ धाम केदारनाथ धाम जगन्नाथ पुरी
श्री द्वारका पुरी हरिद्वार अमरनाथ
वैष्णो देवी शिरडी तिरुपति
अजमेर शरीफ काशी (वाराणसी) गया, बिहार
अमृतसर रामेश्वरम धाम सम्मेद शिखर
श्रवणबेलगोला वेलांकन्नी चर्च, नागापट्टनम

एमपी मुफ्त तीर्थ यात्रा योजना (Free Teerth Darshan Yojana MP) आवेदन करने के लिए आवेदक को आधार कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, बीपीएल कार्ड, स्वास्थ्य प्रमाण पत्र, आयु प्रमाण पत्र जैसे अन्य आवश्यक दस्तावेज सलग्न करना होगा। जिसके बाद नोडल अधिकारी के पास जमा करने होंगे।

नोट – इस लेक के मशयम से हमने आपको  MP Mukhyamantri Teerth Darshan Yojana की जानकारी प्रदान की, अन्य प्रकार के पीडीएफ फॉर्म डाउनलोड करने के लिए तथा सरकारी योजनाओं और सेवाओं के पीडीएफ फॉर्म के लिए हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.