कोर्ट मैरिज फॉर्म PDF | Court Marriage Form PDF Download

Court Marriage Form PDF Download -: भारत एक लोकतांत्रिक देश है। जो संविधान द्वारा बने नियम और कानूनों के अनुसार कार्य करता है। कोर्ट मैरिज करने के लिए भी भारतीय संविधान के अनुरूप कुछ नियम कानून बनायें हैं। जिनको पूरा करने के पश्चात ही कोर्ट मैरिज को कानूनी रूप से मान्यता है। कोर्ट मैरिज करने के लिए भारतीय संविधान ने मैरिज एक्ट 1954 लागू किया है। जो विभिन्न धर्म के स्त्री पुरुष या एक ही धर्म के 18 साल से अधिक आयु की लड़की और 21 साल से अधिक आयु के लड़के की शादी समारोह को मान्यता प्रदान करता है। इस अधिनियम सुप्रीम कोर्ट द्वारा महिला सुरक्षा के लिए 2006 से अनिवार्य कर दिया है। Court Marriage Application Form डाउनलोड करने के लिए नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक करें।
कोर्ट मैरिज 2021 – कोर्ट मैरिज की प्रक्रिया देश में एक समान है। यदि आप कोर्ट मैरिज करना चाहते हैं। तो दम्पति में से कोई एक मुख्य रूप से भारतीय मूल के नागरिक होने चाहिए। जिसके बाद आप नजदीकी कोर्ट में विवाह प्रमाण पत्र के लिए आवेदन कर सकते हैं। यदि आप कोर्ट मैरिज से संबंधित अन्य जानकारी जैसे- कोर्ट मैरिज फीस, दस्तावेज, पात्रता, कोर्ट मैरिज की आवेदन प्रक्रिया, कोर्ट मैरिज शर्तें, कोर्ट मैरिज के नियम 2021, कोर्ट मैरिज फॉर्म PDF प्रदान करेंगे।

Court Marriage Form PDF
Court Marriage Form PDF

Court Marriage Form PDF Download 2021

आर्टिकल  कोर्ट मैरिज फॉर्म
 भाषा   हिंदी
 लाभार्थी   भारतीय नागरिक
 उद्देश्य  महिला सुरक्षा
 लाभ   आधिकारिक रूप विवाह को मान्य
 Court Marriage Application Form PDF   Clicke Here

Documents for Filling the Court Marriage Form 2021

कोर्ट मैरिज करने के लिए दस्तावेजों की आवश्यकता होगी, जिनकी सूचि आपको निम्न प्रकार से हैं –

  • दोनों दम्पतियों का पता – जैसे आधार कार्ड, वोटर ID, पेन कार्ड, राशन कार्ड, पासपोर्ट,ड्राइविंग लाइसेंस या अन्य कोई आधिकारिक प्रमाण जिसमें आपके निवास का पता हो।
  • आयु प्रमाण पत्र- आयु से संबंधित प्रमाण, स्कूल, कॉलेज प्रमाण पत्र, आयु प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, हेल्थ कार्ड आदि जन्म तिथि से प्रमाणित।
  • दम्पतियों की दो – दो पासपोर्ट साइज फोटो तथा गवाहों की फोटो।
  • शपत्र।

कोर्ट मैरिज आर्थिक सहायता राशि (Court Marriage Relief fund

सामाजिक जातिगत भेद-भाव को दूर करने के लिए अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन सहायता राशि प्रदान की जाती है। डॉ. अंबेडकर स्कीम फॉर सोशल इंटीग्रेशन थ्रू इंटरकास्ट मैरिज (Dr. Ambedkar Scheme for Social Integration through Intercast Marriage) की 250000 रुपए प्राप्त करने हेतु आपको विवाह के 1 के अंतर्गत आवेदन करना होगा। जिसके लिए आवेदन करने के लिए आप अपने सांसद या विधायक की सिफारिश या जिला प्रशासन के तहत आवेदन करना होगा।

कोर्ट मैरिज के लिए पात्रता –

Eligibility for Court Marriage Indian
महिला की आयु सीमा 18 वर्ष से अधिक होनी चाहिए।
जबकि पुरुष की आयु 21 वर्ष से अधिक।
दोनों दम्पतियों में से एक भारतीय मूल का निवासी होना चाहिए।

कोर्ट मैरिज के नियम 2021

भारत के सभी नागरिकों के लिए कोर्ट मैरिज करने का नियम (Court Marriage Rules 2021) एक समान है। जिसके लिए दम्पतियों या वर वधू की आयु सीमा पूर्ण होनी चाहिए। जिसके बाद आपको सबसे पहले रजिस्ट्रार को लिखित नोटिस देना होगा। विवाह आवेदन पत्र भरना होगा।

 Court Marriage: Conditions

कोर्ट मैरिज करने हेतु कुछ शर्ते रखी गयी हैं जो इस प्रकार से है –

  • महिला या पुरुष कोई भी पहले से विवाहित न हो – दोनों व्यक्तियों में से किसी एक की शादी पहले से हुई हो तो
  • विवाह अमान्य माना जायेगा।
  • सहमति – वर वधु के स्वेच्छा सहमति से ही विवाह को मान्यता दी जाएगी।
  • आयु सीमा- वर वधु की आयु निर्धारित की गई आयु सीमा तक होनी चाहिए। जोकि ना कि 18 वर्ष एवं पुरुष की 21 वर्ष से अधिक हो।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.